O Level Kya Hai in Hindi (What is O Level

O level Kya Hai:- हेल्लो प्रिय पाठको कैसे हो सब I Hope की सभी सही होंगे, आज के इस लेख मे हम आपके भविष्य को सुधारने के लिए एक Course लेकर आए है, जिसको O Level कहते है क्या आप भी गूगल पर सर्च करते हुए What is O Level, (O level Course Eligibility) हमारे इस ब्लोग तक आए है तो आप बिलकुल सही जगह है.

यहा से आप आसानी से O Level के बारे मे सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त कर सकते है हम सभी पाठको से अनुरोध करते है की वह इस जानकारी जो लास्ट तक पढे !

आज सभी जगह कही वह शिक्षा का क्षेत्र, मेडिकल, क्षेत्र हो या फिर कोई सरकार प्राइवेट दफ्तर हो हर जगह कंप्यूटर इस्तेमाल काफी किया जाता है जो को दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहे ही अब इस स्थिति में कंप्यूटर हर क्षेत्र में काही जरूरी हो गया इसलिए कंप्यूटर से जुड़े Course के बारे में Student को शिक्षा दी जाने लगी ताकि वह इस आने वाले कंप्यूटर के क्षेत्र तरक्की कर सके.

और जब हम कंप्यूटर कोर्स की बात करते है तो O Level एक ऐसा Course जो पूरी तरह से कंप्यूटर से जुड़ा हुआ इसका नाम सबसे पहले आता है यह एक ऐसा Course है जिसे आज स्टूडेंट अपनी पढ़ाई में ज़रूर शामिल करते है क्योंकि इस कोर्स को करने के बाद नौकरी आसानी से मिल है !

तो अब दोस्तों अगर आप भी जॉब पाने के लिए किसी कोर्स की तलाश कर रहे हो या फिर आप O लेवल के कोर्स (What Is O level Course) के बारे में जानना चाहते हो तो आपको इस आर्टिकल में इसके बारे में पूरी जानकारी दी जाएगी जिसको देखने के बाद आप O लेवल के कोर्स के बारे में पूरी जानकारी हासिल कर लोगे और जिस से आप फैसला कर सकते हो कि यह कोर्स आप को करना चाहिए या नही तो चलिए जानते हैं कंप्यूटर कॉर्स ओ लेवल के बारे में।

O Level Course Kya hai? What Is O level Course

O Level Kya Hai

ओ लेवल कंप्यूटर कोर्स एक बेसिक कंप्यूटर कोर्स है जिसमें आपको सभी प्रकार के एप्लिकेशन के बारे में बताया जाता है, ओ लेवल का फुल फॉर्म “आर्डिनरी लेवल” होता है जिसका हिंदी में मतलब है, साधारण स्तर का कोर्स। यह कोर्स 1 साल का है। ओ लेवल की पढ़ाई सेमेस्टर सिस्टम में होती है।

जिसमें 2 सेमेस्टर हैं, O लेवल के लिये योग्यता में आपको 10 वीं और 12 वीं पास होना चाहिए। इसे पूरा करने के बाद आप कंप्यूटर एप्लीकेशन में परफेक्ट हो जाते हैं और किसी भी यूनिवर्सिटी के CS (कंप्यूटर साइंस) डिप्लोमा के समक्ष हो जाते हैं।

ओ लेवल कंप्यूटर कोर्स करने के लिए योग्यता (O level Course Eligibility)

O लेवल कंप्यूटर कोर्स करने के लिए कम से कम शैक्षणिक योग्यता इंटरमीडिएट है या आपके पास आईटी-आई सर्टिफ़िकेट होना चाहिए चाहे आपने 10 वीं के बाद आईटी-आई किया हो, फिर भी आप ओ लेवल कंप्यूटर कोर्स कर सकते हैं।

ओ लेवल कंप्यूटर कोर्स के लिए अप्लाई कैसे करें?

O-लेवल कंप्यूटर कोर्स 2 तरह से किया जा सकता है, पहला सीधे यानी ऑनलाइन और दूसरा किसी भी संस्थान द्वारा, अगर आपको इसे सीधे करने में कोई समस्या है, तो आप किसी भी संस्थान में जाकर एड-मिशन ले सकते हैं और वहां अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।

इससे आप ओ लेवल की तैयारी कर सकते हैं और परीक्षा देकर ओ लेवल का कोर्स कर सकते हैं। यदि आपको संस्थान जाने में कोई समस्या है, तो आप इसे ऑनलाइन कर सकते हैं।

ऑनलाइन कोर्स करने के लिए आपको student.nielit.gov.in इस वेबसाइट पर जा कर ऑनलाइन आवेदन करना होगा और खुद को रजिस्टर करना होगा जिसके बाद आप स्वयं से इसकी तैयारी कर सकते हैं और खुद से तैयारी कर आपको इसकी परीक्षा ऑनलाइन ही देनी होगी जिसको पास कर आप ओ लेवल कोर्स का सर्टिफ़िकेट प्राप्त कर सकते हो।

और अगर आप ऑनलाइन नही करना चाहते हो तो अपने नज़दीकी किसी इंस्टिट्यूट में जाकर इसके बारे में जानकारी ले सकते हो अगर वहाँ यह कोर्स अवेलेबल है तो आप इसे वहाँ से भी कर सकते हो।

ओ लेवल कोर्स सिलेबस? (Syllabus Of What Is O level Course)

O लेवल के पहले चार विषय थे लेकिन अब इस मे कुछ नए विषय भी जोड़े गए हैं आइए देखते हैं-

O लेवल के सेमेस्टर 1 में 3 मॉड्यूल कोड हैं। तीनो मॉड्यूल से 100 – 100 अंकों के अनिवार्य प्रश्न पूछे जाएंगे।

एम 1 आर 4 (यह उपकरण और व्यापार प्रणाली)
एम 2 आर 4 (इंटरनेट प्रौद्योगिकी और वेब डिज़ाइन)
एम 3 आर 4 (C प्रोग्रामिंग)
यह वो तीनों विषय है जिनमे से प्रश्न पूछे जाते हैं।

O लेवल कोर्स करने के लिए फ़ीस

अगर आप ऑनलाइन रजिस्टर करते हो तो आपको सिर्फ रजिस्ट्रेशन फ़ीस लगभग 3000 से 3500 तक देनी होती है। लेकिन वही अगर आप किसी संस्थान से करते हो तो वो उस इंस्टीट्यूट पर निर्भर करता है कि वह कितना फ़ीस लेते हैं।

O लेवल परीक्षा पैटर्न

ओ लेवल कोर्स में आपको 4 एक्जाम देने होते हैं। सभी ओ लेवल पेपर में 2 भाग होते हैं। भाग 1 में आपको 40 प्रश्न हल करने हैं। जिन्हें हल करने के लिए 1 घंटे का समय दिया जाता है। परीक्षा का यह भाग 40 अंकों का है, जिसमें आपको उत्तीर्ण होने के लिए 20 अंक लाने होंगे।

भाग 2 में आपको 60 प्रश्न हल करने होंगे। इस पेपर को हल करने के लिए आपको 2 घंटे का समय मिलता है, 60 मार्क्स के इस हिस्से में, आपको 30 मार्क्स लाने होंगे

O लेवल कोर्स के फायदे

आज के इस कंप्यूटर के युग में इस O लेवल कोर्स को करने के किसी भी स्टूडेंट के लिए काफी फायदे हो सकते है कुछ फायदे इस प्रकार है…!

अगर आप सरकारी नौकरी के लिए आवेदन कर रहे हैं, तो आपको अपना कंप्यूटर डिप्लोमा देना होगा जिसमें ओ लेवल सर्टिफ़िकेट का उपयोग किया जा सकता है।

O और A लेवल सर्टिफ़िकेट होल्डर्स डिप्लोमा और एडवांस डिप्लोमा वेकेंसी में भी आवेदन कर सकेंगे।
आजकल प्राइवेट नौकरी में भी कंप्यूटर डिप्लोमा मांगा जाता है। तो उसके लिए भी ओ लेवल कंप्यूटर डिप्लोमा सर्टिफ़िकेट काम आता है।

O लेवल करने के बाद जॉब

इसमें कोई शक नहीं है और सभी जानते भी आज की आज कंप्यूटर मानव जीवन के लिए इतना ज्यादा जरूरी हो गया की इसके बिना काम करना काफी मुश्किल हो गया है और अब तो इसका उपयोग हर क्षेत्र में काफी बढ़ता जा रहा है.

इसलिए O Level Course को स्टूडेंट के पास एक नहीं बल्कि अनेक नौकरी के अवसर खुल जाते है, बाकी आप इस कोर्स को करने के बाद कहाँ नौकरी के अवसर पाए सकते है इसके लिए नीचे पढ़ सकते है
कंप्यूटर ऑपरेटर
यह लैब असिसटेंट है
शिक्षण सहायक
प्रोग्रामर सहायक
जूनियर प्रोग्रामर

Final Word

तो दोस्तों ये था हमारा आज का आर्टिकल जिसमे आपने जाना की O Level Kya Hai। आशा करता हूँ की आपको इस कोर्स के बारे में हमारे इस आर्टिकल में दी गयी जानकारी समझ आ गयी होगी और आपके लिए उपयोगी साबित हुई होगी।

अगर दी गयी जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित हुई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ ज़रूर शेयर करे.

Leave a Comment